भारत का एक ऐसा अनोखा गांव जहां फ्री में मिलता है अनलिमिटेड दूध, दही और मक्खन…आये जाने इसका बड़ा कारण…!!

पुरे देश में जन्माष्टमी का त्योहार धूमधाम से मनाया जाता है| इस दिन लोग दूध से बने मीठे पकवान बनाते है और उसका भोग कांन्हा जी को लगाते है| इसलिए बाजारों में दूध की मांग काफी तेजी से बढ़ रही थी साथ की हर किसी के घर में लोग दूध से बनने वाली चीजों का इस्तेमाल अपने दैनिक जीवन में करते ही है| कई दूध कंपनियों ने इसके चलते अपने रेट तक काफी ज्यादा बढ़ा दिए..है लेकिन क्या आप जानते हैं एक देश ऐसा भी है जहां पर दूध को बेचा नहीं जाता है| किसी से दूध लेते है तो वह आपको बिल्कुल फ्री में मिल जाता है| ये बात सुनकर कोई भी हैरान रह जाएगा..!

महाराष्ट्र के हिंगोली जिले में एक गांव है जिसे गवली नाम से जाना जाता है| जहां दूध से बनी हर चीज बिलकुल फ्री दी जाती है| कहने का मतलब दूध या इससे बने किसी भी सामान का यहां व्यापार नहीं किया जाता है | आपके मन में सवाल उठ रहे होंगे कि आज के समय में जहां लोग पानी तक का व्यापार करते हैं| वहां दूध, दही के दाम को नहीं लगाए जाते|

असल में इस गांव के लोग खुद को श्रीकृष्ण का वंशज बताते है इसलिए वो दूध बेचना पाप समझते है| इस गांव में गाय को सर्वश्रेष्ठ स्थान दिया जाता है| यहां पर कोई भी गाय का दूध नहीं बेचता है|
गांव के लोगों का मानना है कि कृष्ण भगवान नें ऐसा कहा था कि दूध का व्यापार बिलकुल नहीं करना चाहिए| यह बात उस समय से लेकर आजतक गांववालों के लिए मान्य है| और आज तक उनकी बनाई यह परंपरा गांव वाले निभाते भी आ रहे है|

गांववालों का कहना है कि हम लोग गांव में मिल बांटकर दूध और इससे बनी चीजें खाते और सभी जरुरतमंदों को भी मुफ्त में देते है| शुद्ध दूध पीने के कारण गांव के हर उम्र के लोग काफी ज्यादा स्वस्थ्य है|

Leave a Comment