पीएम मोदी की अनुच्छेद 370 पर चुनौती, राहुल गांधी ने क्या कहा..पीएम मोदी ने क्या दिया जवाब…

पीएम नरेन्द्र मोदी ने महाराष्ट्र के जलगांव में एक चुनावी सभा में विरोधियों को अनुच्छेद 370 और 35-ए पर स्पष्ट स्टैंड लेकर सामने आने की चुनौती दी|

पीएम ने कहा कि जम्मू कश्मीर और लद्दाख के बारे में अनाप-शनाप बातें करने वाले विरोधियों में अगर हिम्मत है तो वह इस साल आने वाले चुनाव के लिए भी अपने चुनावी घोषणा पत्र में ऐलान करदे कि भाजपा, मोदी सरकार ने जो अनुच्छेद 370, 35 ए हटाया है, उसे वह वापस लेकर आएंगे|

पीएम ने कहा, “मैं विरोधियों को चुनौती देता हूं कि अगर उनमे हिम्मत है तो आप इस चुनाव में स्पष्ट स्टैंड के साथ सामने आएं जम्मू कश्मीर और लद्दाख के बारे में अनाप- शनाप बातें करने वाले लोगो में अगर आपमें हिम्मत है तो इस चुनाव में भी और आने वाले चुनावों के लिए भी अपने चुनावी घोषणा पत्र में ऐलान करें कि मोदी सरकार ने जो अनुच्छेद 370, 35 ए हटाया है, हम उसे वापस लेकर आएगे|

पांच अगस्त को जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा वापस ले लिया गया था और अनुच्छेद 370 और 35 ए हटा लिया गया था साथ ही राज्य को दो हिस्सों में बांटा गया, इंटरनेट और मोबाइल सुविधा काट दी गई थी| इसके अलावा वहां काफी संख्या में सेना तैनात की गई और अलगावादियों सहित राजनीतिक दल के नेताओं को भी हिरासत में लिया|

दूसरी ओर राहुल गांधी ने महाराष्ट्र के लातूर में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि चांद पर रॉकेट भेजने से हिन्दुस्तन के युवाओं के पेट में भोजन नहीं जाएगा कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि “चुनाव का समय आता है पर बेरोजगारी पर बात नहीं होगी, युवा देख रहा है, कह रहा है कि मेरा तो भविष्य ही नहीं है कुछ बचा नहीं है|

सरकार पर निशाना साधते उन्होंने कहा, “दूसरी तरफ कहेंगे, बेटा चांद की ओर देखो हिन्दुस्तान ने रॉकेट भेजा है यह सही बात है इसरो को कांग्रेस ने बनाया था रॉकेट दो दिन में नहीं गया है सालों साल लगे है नरेन्द्र मोदी इसका फायदा उठा रहे है पर चांद पर रॉकेट भेजे जाने से हिन्दुस्तान के युवाओं के पेट में भोजन नहीं आ सकता|

महाराष्ट्र में हरियाणा के साथ विधानसभा चुनाव कराया जा रहा है दोनों राज्यों में 21 अक्टूबर को विधानसभा चुनाव कराए जाएंगे, जबकि वोटों की गिनती का काम 24 अक्टूबर किया जाएगा|

Scroll to Top