कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने पीएम मोदी पर समाज को बांटने का लगाया आरोप कहा….

राम मंदिर प्रतिष्ठा को लेकर कांग्रेस ने निमंत्रण अस्वीकार कर दिया है। कांग्रेस द्वारा निमंत्रण अस्वीकार किए जाने के बाद इस पर राजनीति शुरू कर दी गई है, क्योंकि कांग्रेस ने राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह को भाजपा और आरएसएस का इवेंट बताया है। अब इस पर कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह का बयान आया है।

दिग्विजय सिंह ने वीएचपी को लेकर बड़ा उठाए सवाल-

दिग्विजय सिंह ने कहा कि हमें इस बात पर काफी आपत्ति है कि शंकराचार्य का अपमान किया जा रहा है। उन्होंने सवाल किया कि राम मंदिर पर वीएचपी का क्या अधिकार है? हमने राम मंदिर के लिए दान दिया है।

चंपत राय को लेकर बोले दिग्विजय सिंह-

उन्होंने कहा कि पूर्व पीएम नरसिम्हा राव ने चारों शंकराचार्यों के साथ मिलकर ‘रामालय न्यास’ का गठन किया था। उन्होंने बताया कि चंपत राय विहिप के प्रमोटर हैं, जिन्होंने भूमि घोटाला किया है। ऐसे व्यक्ति को राम मंदिर ट्रस्ट का प्रमुख बनाया गया है जो धर्म का अपमान कर रहा है।

दिग्विजय सिंह ने भाजपा पर कसा तंज

उन्होंने सवाल खड़ा किया कि निर्मोही अखाड़े का अधिकार क्यों छीन लिया गया है? भाजपा, संघ और विहिप अब अंग्रेजों की फूट डालो और राज करो की नीति का उपयोग कर रहे हैं।

Scroll to Top